स्विमिंग के 7 महत्वपूर्ण फायदे कैसे और क्यों ?

0
स्विमिंग के फायदे
स्विमिंग के फायदे

दोस्तो स्विमिंग एक ऐसा एक्सरसाइज है, जो कि किसी को करने में मजा ना आये ऐसा आजतक नही हुआ। स्विमिंग के बहूत सारे फायदे है। जो में आपको बताने वाला हु, आज कल लोग जिम में जाते ही बॉडी बनाने के लिए उन्हें हर एक अंग को आकार देने के लिए अलग अलग तरह के एक्सरसाइज करने पड़ते है। और वह एक बार एक ही अंग पर कंसन्ट्रेशन कर सकते है। और दूसरे अंग पर उनका ध्यान नही जाने के कारण वह बढ़ नही पाते।

मगर स्विमिंग में ऐसा नही है; इसमे आपके शरीर के हर एक अंग का व्यायाम होता है, बाहर की ओर से और अंदर की ओर से हर एक अंग को मजबूत करने के लिए आपको कोई जरूरत नही होती अलग अलग तरीके से स्विमिंग करने की।

दोस्तो अगर आप लड़के हो तो एथेलेटिक फिट बॉडी बनानी हो; और आप लड़की हो आपको झिरो फिगर बनानी है, तो मेरी सलाह मानो तो रोजाना 50 मिनट स्विमिंग करे। बन्द कर दे कही जिम, योगा, और ऐरोबिक्स क्लासेस जाना। केवल रोजाना 50 मिनट स्विमिंग करो और तंदुरुस्त रहो।

स्विमिंग क्यों करें ?

स्विमिंग क्यों करें
स्विमिंग क्यों करें

दोस्तो इसका जवाब आपको स्विमिंग के फायदे में ही मिल जाएगा ।

स्विमिंग करने से होने वाले फायदे :

स्विमिंग करने से होने वाले फायदे
स्विमिंग करने से होने वाले फायदे

1. ब्लड सर्कुलेशन का बैलेंस बना रहता है :

ब्लड सर्कुलेशन का बैलेंस
ब्लड सर्कुलेशन का बैलेंस

ब्लड सर्कुलेशन को हम ब्लड प्रेशर भी कहते है। स्विमिंग करने से आपके शरीर का हर एक अंग लचीला होता है। और उसीके मदद से आप स्विमिंग करते हो अच्छी तरह।

लेकिन स्विमिंग करते वक्त हम थोडी थकावट महसूस करते है। और इसी कारण हमारे नसों के भीतर का ब्लड संतुलन बनाये रखता है।

ना ही बढ़ता है ना ही कम होता है। इससे आपको हार्ट अटैक जैसी बीमारी का होना भी असंभव है। क्यों कि स्विमिंग से हमारे शरीर के सारी ब्लड सर्कुलेट करने वाली नसे साफ हो जाती है उनमें किसी भी तरह की रुकावट ऐड नही होती है। और हमारे दिल तक शुद्ध और बोहोत सारा ब्लड पोहोंच जाता है, जिसके वजह से दिल हमेशा एनरजेटिक और तंदुरुस्त रहता है।

2. स्विमिंग करने से जोड़ो का दुखना दूर होता है

स्विमिंग करने से जोड़ो का दुखना
स्विमिंग करने से जोड़ो का दुखना

जोड़ो का दुखना तभी होता है जब हमारे शरीर के अंदरूनी हिस्से की हलचल कम हो जाती है। सस्विमिंग एक ऐसा व्यायाम है जो शरीर को अंदर बाहर से तंदुरुस्त रखता है। यही कारण ही कि जो लोग स्विमिंग करते है उनको कभी जोड़ो के दर्द से लड़ना नही पड़ता क्यों कि। बाकी के एक्सरसाइज़ करने से हम बाहर से शरीर बनाते है और मजबूत करते है।

स्विमिंग पहले शरीर को अंदर से मजबूत और तंदुरुस्त करता है। स्विमिंग करते वक्त सारी मास्पर्शीयो की हलचल होती है भीतर से तो उसी कारण उन मास पेशियों में जान आ जाती है। और कोई भी जोड़ो का दुखना सम्भव नही है।

3. शरीर की अतिरिक्त चर्बी कम होना

शरीर की अतिरिक्त चर्बी कम होना
शरीर की अतिरिक्त चर्बी कम होना

जी हाँ दोस्तो स्विमिंग से आपके से सारे शरीर की चर्बी यूँही घाट जाएगी। चर्बी कम करने के लिए कोई भी डाईट करना जरूरी नही है। स्विमिंग करते वक्त हमारे शरीर के सारे फैट मसल्स जल जाते है। क्यों कि स्विमिंग को ज्यादा एनर्जी की जरूरत होती है पानी मे मूवमेंट करने के लिए।

उसी कारण आपके शरीर की अतिरिक्त चर्बी घट जाती है। और जिनकी चर्बी बढ़ी हुई नही होती है। उनकी की बॉडी फिट रहती है। वे लोग बड़े ही आसानी से ज्यादा समय तक तैर सकते है।

4. हाइट का बढ़ना

हाइट का बढ़ना
हाइट का बढ़ना

दोस्तो अब आप बोलोगे पानी मे भी हाइट बढ़ती है कैसे? आइये में बताता हूँ। जब हम लोग स्विमिंग कर रे होते है तब पानी मे मूवमेंट के वजह से हमारे मसल्स लचीले हो जाते है और उनमें तनाव पैदा होने लगता है।

जब हम स्विमिंग करते वक्त शरीर को आगे की ओर खींचते है। तब हमारे मसल्स भी खिचावट महसूस करते है। और हमारे शरीर का ह्यूमन हार्मोन ग्रोथ बढ़ने लगता है जिसके कारण हमारी हाइट बढ़ने में मदद होती है। यह ज्यादा तर बच्चो में होता है। जिनकी उम्र 21 साल से कम है। इसीलिए स्विमिंग को जल्द से जल्द सीखना जरूरी है।

5. पाचन क्रिया को बढ़ाये

पाचन क्रिया को बढ़ाये
पाचन क्रिया को बढ़ाये

दोस्तो आजकल के दौर में हम लोग कूछ भी खाते रहते है। जैसे किसी के पास खाने के लिए समय नही है। किसी के पास पैसे नही है। किसी को नॉनवेज ही खाना अच्छा लगता हो तो यह लोग फास्टफूड कहना पसंद करते है। और खाते वक्त बाते करना कोल्ड्रिंक्स पीना,खड़े होकर खाना, इन सभी से हमारे पेट की पाचन क्रिया कम हो जाती है। जिसे हम अंग्रेजी में डाइजेस्टिव सिस्टम कहते है। हमारे खाने पीने के तरीके सही न होने से पेट के पाचन संस्था का बैलेंस खराब हो जाता है, उससे आपको फिर पेट के गैसेस, एसिडिटी, कफ्स, भूक का ना लगना इत्यादि बिमारयो से लड़ना पड़ता है। लेकिन स्विमिंग करने से आपके पाचन संस्था पर अच्छा इफ़ेक्ट होकर उसे खाना पचाने ने के लिए मदद होती है।

जैसे कि स्विमिंग करते वक्त काफी सारी एनर्जी की जरूरत होती है, तो शरीर को भूक लगने लगती है। याने हल खाया हुआ खाना पाचन संस्था शरीर मे सर्कुलेट कर देती है। एनर्जी के लिए, फिर चाहे कोई भी खाना हो उसके खराब पदार्थ भी बॉडी के लिए उस टाइम एनर्जी पैदा करते है। और फिर हमें भूक लगती है। तो हम भरपेट और अच्छा खाना खाते है। जिसके कारण शरीर भी तंदुरुस्त रहता है। इसीलिए रोजाना 50 मिनेट तक स्विमिंग करना जरूरी है।

6. अच्छी नींद के लिए करे स्विमिंग

अच्छी नींद के लिए करे स्विमिंग
अच्छी नींद के लिए करे स्विमिंग

दोस्तो आजकल के सोशल मीडिया के दौर में कोई भी इंसान पीने नींद को त्यागने के लिए यूही झट से तैयार हो जाता है। जैसे मानो सुबह सोशल मीडिया ही बंद होने वाली हो। और कभी इस्तेमाल ही न करने को मिले।

कोई गर्लफ्रैंड से तो कोई बोयफ़्रेंडस से चैटिंग करने में रात गुजर देता है। कोई मूवी, देखतेरहते है कोई गेम्स खेलते रहते है। यह सभी चींजे आजकल हो रही है फिर इसका दुष्परिणाम शरीर को भुगतना पड़ता है। फिर डॉक्टर के पास जाकर तकरार करते रहते है मुझे नींद नही आती क्या करूँ? मेरा सरदर्द बन्द नही हो र क्या करूँ? ऐसे अनेक बीमारियों से झुन्जना पड़ता है।तो आइए अगर आपके साथ ऐसा हो रहा है तो मेरी सलाह है। रोजाना 50 मिनट तक स्विमिंग करे । क्योंकि स्विमिंग करने से हमारे सारे शरीर का और एक एक अंग का अच्छे से एक्सरसाइज हो जाता है। जिसके कारण शरीर शांत रहता है। और हमारे शरीर के मांसपेशियोको आराम की जरूरत होती है। यानी हम अच्छे तरीकेसे तक जाते है। दिमाग पर कोई भी तनाव नही होता है।

इसी कारण हम शान्तिं से सो पाते है। और में आपको चैलेंज करता हु की आप रोजाना स्विमिंग कर रहे हो तो रात को देर तक जागना छोड डोगे। फिर कि चाहे किसिभी प्रिय व्यक्ति का मैसेज आए। आप उससे ज्यादा नींद लेना पसंद करोगे।

7. स्विमिंग करे और बॉडी बनाये

स्विमिंग करे और बॉडी बनाये
स्विमिंग करे और बॉडी बनाये

दोस्तो बॉडी बनानी किसे पसंद नही सबको पसंद हैं। फिर चाहे आप लड़का हो या लड़की, लड़के को अच्छे खासे डोले शोले बढ़ाने है तो लड़की को झिरो फिगर मेन्टेन करनी है। ताकि बाकी लोग उनके तरफ खिंचे चले आये। लेकिन लोग जिम में कई जाने वाली एक्सरसाइज को सुनकर या देखकर डर जाते है; या तो फिर आलस करते है, जैसे कि को इतनी एक्सरसाइज करेगा हर एक अंग को शेप देने के लिए आकर बढ़ाने के लिए अलग अलग वर्कआउट करो और फलाना ढिमका।

सभी को बैठे बैठे बॉडी बनानी है, यह तो होने से रहा। लेकिन ज्यादा मेहनत न करते हुए आप स्विमिंग के जरिये अपनी बॉडी बना सकते है। दोस्तो स्विमिंग करने से सारे अंग अपने आप साइज और आकार ले लेते है ना काम न ज्यादा। स्विमिंग करते वक्त हर एक अंग का उसमे इस्तेमाल होता है। फिर चाहे वो शरीर के भीतर का हिस्सा हो या बाहरी हिस्सा हो। और वह स्विमिंग के एक्सरसाइज की वजह से बढ़ने लगते है। और आपकी बॉडी जल्द ही बन जाती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here