शिक्षक प्रशिक्षण अभियान – Shikshak Prashikshan Abhiyan

0
Teacher Training Programme
Teacher Training Programme

क्या आपको पता है ? क्या होता है शिक्षक प्रशिक्षण अभियान ?

हेलो दोस्तों, आज हम आपको भारत के एक महत्वपूर्ण योजना ( शिक्षक प्रशिक्षण अभियान ) के बारे में जानकारी देने वाले यह योजना भारत देश विकास और शिक्षण के प्रति कितना गंभीरता से विचार करता है। इसका परिचय देता है।

भारत सरकार द्वारा शिक्षण विषय बहुत सारी योजनाएं निकल रही है इस योजना का महत्वपूर्ण भाग भारत की शिक्षण विषयक व्यवस्था प्रशिक्षण और संबंधित प्राध्यापक और स्कूल टीचर इनको प्रशिक्षण देकर उन्हें बच्चों को कैसे पढ़ाया जाए। और जिससे बच्चों को शिक्षण में रुचि हो और वह पढ़ाई में आगे बढ़े इसके बारे में यह योजना है।

भारत सरकार ने हमेशा शिक्षण को बहुत ही बढ़ावा दिया है पढ़ाई करने से हमें क्या-क्या फायदे हो सकते हैं हम किस-किस नुकसान से बच सकते हैं यह हमें आजकल विज्ञापनों में अखबारों में और टीवी पर जानकारी देकर भारत सरकार जागरूक कर रही हैं।

जैसा कि हम सब जानते हैं पिछले कई दिनों से शिक्षक और विद्यार्थियों के संबंध के बारे में कई खबरें आती है जिससे कि किसी प्राध्यापक में अपनी छात्रा विद्यार्थियों पर दबाव डाला और उनकी पिटाई की या और प्राध्यापकों का स्कूल कॉलेजों में देरी से आना पढ़ाने का तरीका इनमें विविधता है इस प्रकार की खबरें आज कल न्यूज़ में आती है।

यह दिखने में एक साधारण उसे लगता है लेकिन यह बहुत ही गंभीर विषय है इसके बारे में गंभीरता से विचार करने की जरूरत थी। इसीलिए भारत सरकार ने शिक्षण प्रशिक्षण अभियान शुरू किया इसमें शिक्षकों को प्रशिक्षण देकर विद्यार्थियों के साथ कैसा बर्ताव करना चाहिए उन्हें क्या सिखाना चाहिए और किस प्रकार उनकी रुचि बढ़ानी चाहिए इसके बारे में बताया जाता है।

कब और कैसे हुई शुरुआत शिक्षक प्रशिक्षण अभियानकी ?

इस योजना की शुरुआत 2019 में जनवरी महीने में हुई थी।शिक्षक प्रशिक्षण अभियान इस योजना का दूसरा नाम निष्ठा योजना भी है।  कुछ प्रदेशों में यह निष्ठा नाम से भी जाने जाती है।

Teacher Training
Teacher Training

निष्ठा या नहीं शिक्षक और पढ़ाई के प्रति अपनी निष्ठा रखने वाले यानी कि इसका सही मायने में अर्थ है शिक्षक। शिक्षक हमेशा अपने शिक्षा और पढ़ाई को लेकर हमेशा निष्ठावान रहना चाहिए और वह तभी निष्ठावान रह सकता है जब उसके पास पर्याप्त ञान संकलन और बुद्धि हो।

और यह तभी संभव है जब उन्हें योग्य तरह से प्रशिक्षण मिले और इस तरह का प्रशिक्षण दिलाने की जिम्मेदारी भारत सरकार ने उठाई है।

कई प्राइवेट स्कूल कॉलेज अपनी प्राइवेट तरह से अपने टीचर प्राध्यापकों को प्रशिक्षण देते हैं लेकिन वह इसके लिए बढ़ी फीस लेते हैं फेस देखकर कई टीचर प्रशिक्षण लेना पसंद नहीं करते। शिक्षक हमारे देश का एक महत्वपूर्ण भाग है हर कोई अपनी पढ़ाई के दौरान टीचर से संबंधित होता है।

अपने शिक्षक का व्रत था उसके पढ़ाने का तरीका और उसने बताई हुई बातें इनका बच्चों के दिमाग पर और विद्यार्थियों के मन पर बहुत ही गहरा प्रभाव पड़ता है।

और इस तरह की बातें बच्चे आसानी से बोलते नहीं और उनके मन में वह बात बस जाती है शिक्षक ज्ञान प्रसारण करने का एक महत्वपूर्ण काम करते हैं।

शिक्षक एक आने वाली पीढ़ी का भविष्य निर्धारित करता है। बच्चों के सोच विचार करने का तरीका और उनकी स्मरण शक्ति और उनका बोलने का भाव यह सब उनके शिक्षक पर केंद्रित होता है।

यह योजना भारत संसाधन विकास मंत्रालय द्वारा शुरू की गई इसमें वे 42 लाख शिक्षकों को मुफ्त में प्रशिक्षण दिया जाएगा। इस योजना में ना केवल सरकारी स्कूलों के टीचर और सरकारी कॉलेजों के प्राध्यापक ही नहीं रहेगी बल्कि प्राइवेट स्कूल के टीचर प्राइवेट कॉलेजों की टीचर और अन्य कई शिक्षक इनका भी समावेश इस योजना के अंतर्गत किया गया है उन्हें मुफ्त में प्रशिक्षण देकर बच्चों का भविष्य उज्जवल करना यही इस योजना का मुख्य उद्देश्य है।

यह योजना केवल ग्रामीण भाग और शहरों में नहीं तो जिस जगह ऊर्जा केंद्र भारत में उपस्थित है वह भी यह योजना मुख्य रूप से शुरू की जाएंगी जहां ऊर्जा केंद्र होते हैं वहां के बच्चे ज्यादातर पढ़ाई पर ज्यादा ध्यान नहीं देते वह ऊर्जा केंद्र में जाकर नौकरी करना पसंद करते हैं।

वहां उन्हें रोजगार उपलब्ध होता है लेकिन वह पढ़ाई से वंचित हो जाते हैं इससे वहां के लोग उनका फायदा भी उठा सकते हैं इसीलिए वह के स्कूल कॉलेज पर जागरूकता लाने की जरूरत है और यह जागरूकता एक टीचर हिला सकता है।

इसलिए वहां की टीचरों को प्रशिक्षण देकर शिक्षा के प्रति माह के बच्चों को कैसे प्रेरित किया जाए और आकर्षित किया जाए इसके बारे में विशेषकर के प्रशिक्षण दिया जाता है।

किसको होता है शिक्षक प्रशिक्षण अभियान का लाभ ?

इस योजना का एक महत्वपूर्ण भाग यह भी है कि यह सिर्फ सरकारी स्कूल कॉलेजों के प्राध्यापक और शिक्षकों को प्रशिक्षण ना देखकर अन्य प्राइवेट स्कूलों के टीचर और प्राइवेट कॉलेजों के प्राध्यापकों को भी प्रशिक्षण देने वाली योजना है।

शिक्षक प्रशिक्षण अभियान
शिक्षक प्रशिक्षण अभियान

एक मुफ्त में दी जाने वाली प्रशिक्षण योजना है इसके लिए कोई फीस या कोई पैसे देने नहीं पढ़ते। निष्ठा योजना से शिक्षक और समाज में बहुत बड़ा विकास लाने का प्रयत्न यह योजना करती है जब एक शिक्षक योग्य तरह से प्रशिक्षण पाता है।

तब वह अपने बच्चों को योग्य तरह से सिखा पाता है इसकी वजह से आने वाले पीढ़ी का भविष्य निर्धारित होता है यानी शिक्षक हमारे देश का एक महत्वपूर्ण भाग है और उसे प्रशिक्षण देना या ने पूरे देश को प्रशिक्षण देने के बराबर माना जाता है।

योजना ऊर्जा केंद्र में विकसित होने वाले स्कूल कॉलेजो मैं सिखाने वाले शिक्षकों को ज्यादा महत्व देती है।

यह योजना ना केवल जो शिक्षक है उन्हें प्रशिक्षण ना देखकर जो शिक्षक व्यवसाय में आना चाहते हैं उनकी जिज्ञासा और उनका ध्यान बढ़ाने का भी काम यह योजना करती है।

उन्हें भी खासकर प्रशिक्षण देने की सुविधा शिक्षक प्रशिक्षण अभियान योजना के अंतर्गत की है जिससे शिक्षक व्यवसाय में आने के लिए युवा पीढ़ी प्रेरित हो और भारत के एक महत्वपूर्ण कार्य में उनका योगदान हो।

यह योजना 3 विभागों में शुरू की जाएगी यानी कि यह प्रशिक्षण केवल क्लास रूम में ही होगा इसके अलावा ऑनलाइन फेसबुक व्हाट्सएप और मोबाइल एप के द्वारा भी यह प्रशिक्षण शुरू किया जाएगा।

उद्देश्य क्या है शिक्षक प्रशिक्षण अभियान शुरू करने का ?

    • शिक्षण व्यवस्था में सुधार लाना और बच्चों को पढ़ाई के प्रति प्रेरित करना योजना का मुख्य उद्देश्य है।
    • निश्चय योजना में प्रशिक्षित शिक्षकों को स्कूल को सुरक्षित रखने के उपाय  उठाए जाने वाले कदम आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस का उपयोग इसकी जानकारी दी जाएगी।
    • व्यवसाय के लिए प्रशिक्षण पूर्व व्यवसायिक शिक्षा और पर्यावरण संबंधी जागरूकता लाने का भी काम यह योजना करेगी।
    • आजीवन प्रशिक्षण योजना है जो समय-समय पर शिक्षकों को उनकी समस्या के प्रति प्रशिक्षण देने का काम करेगी।
loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here