पीरियड्स में होने वाले दर्द से छुटकारा पाने के घरेलू उपाय

पीरियड्स में होने वाले दर्द के लिए

नमस्ते दोस्तों, आज हम आपको कुछ ऐसे घरेलू नुस्खा बताएंगे जो आपके पीरियड्स में होने वाले दर्द से छुटकारा दिलाएंगे। पीरियड्स यानी की मासिक धर्म महिला में युवावस्था में आने के बाद से शुरुआत हो जाती है। मासिक धर्म की शुरुआत 14 से 16 वर्ष की आयु में होती है। यह ज्यादातर 14 से 50 साल तक महिलाओं में रहती है। मासिक धर्म शुरुआत होना मतलब महिलाओं के प्रजनन अंग का विकसित होना होता है।

उसके बाद ही मासिक धर्म की शुरुआत होती है। इसमें महिलाओं के शरीर में हारमोंस में बहुत सारे बदलाव होते हैं। और इन्हीं बदलाव के चलते महिलाओं को बहुत ज्यादा दर्द से गुजरना पड़ता है। पीरियड्स मैं महिलाओं को पेट दर्द, पीट दर्द, शरीर का कमजोर होना, हाथ पैर में दर्द होना, और पेट के नीचे के हिस्से में दर्द होना, भूख ना लगना, नींद ना आना यादी समस्याओं से गुजरना पड़ता है। पीरियड्स हर महीने आते हैं वह यह 5 दिनों तक रहते हैं। पीरियड से संबंधित महिलाओं को कई सारी समस्याएं आती है।

जब भी पीरियड्स आने वाले होते हैं उसके 2 या 3 दिन पहले और पीरियड्स आने के बाद भी महिलाओं को बहुत ज्यादा दर्द होता है। कई बार इस समस्या को छुटकारा पाने के लिए हम घरेलू नुस्खों का इस्तेमाल करके इससे छुटकारा पा सकते हैं। पीरियड्स में दर्द होने के कई सारे कारण हो सकते हैं। जैसे कि अपने खान-पान का ख्याल ना रखना, अपने आप का ख्याल ना रखना, सही तरह से शरीर को आराम ना मिलना, नींद पूरी ना लेना, शरीर में खून की कमी होना इत्यादि कारण हो सकते हैं।

मासिक धर्म में दर्द क्यों होता है ? इसका कारण क्या है ?

मासिक धर्म में दर्द
मासिक धर्म में दर्द

मासिक धर्म महीने में एक बार आता है। और यह 5 दिन तक रहता है मासिक धर्म के चक्र के प्रक्रिया में 1 महीना लगता है। जब महिला के अंडाशय से एक अंडा हर महीने बाहर निकलता है। यह अंडा फेलोपियन ट्यूब की सहायता से गर्भाशय में जाता है। गर्भाशय में एक गाड़ी परत बन जाती है।

जब अंडाशय से अंडा बाहर निकलता है, तभी शारीरिक बदलाव होते हैं। और हारमोंस में बदलाव आते हैं। इसी बदलाव के कारण हमारे शरीर में दर्द होता है। गर्भाशय में जो अंडा होता है, उसकी आजू-बाजू की परत रक्तस्राव के रूप में गर्भाशय के मुख से योनि से रक्त प्रवाह के रूप में बाहर निकलती है। और उसी को मासिक धर्मा बोलते हैं। इसी प्रक्रिया के समय आपको दर्द होता है। मासिक धर्म में आपके शरीर में जो भी गर्भाशय में अशुद्ध रक्त होता है  वह योनि के माध्यम से रक्त प्रभाव के रूप में जब बाहर निकलता है।

तब पेट में दर्द होने लगता है। और पेट के नीचे के हिस्से में दर्द होने लगता है। यह स्वाभाविक है, या इससे डरने की या चिंता करने की कोई जरूरत नहीं है। अगर यह दर्द बर्दाश्त से बाहर हो जाए तो, एक बार आप को डॉक्टर को दिखा कर डॉक्टर की सलाह लेना बहुत जरूरी है।

पीरियड्स के समय किन चीजों का ध्यान रखें :

पीरियड्स के समय किन चीजों का ध्यान रखें
पीरियड्स के समय किन चीजों का ध्यान रखें

पीरियड्स हर महीने आते हैं। और वह 5 दिन आते हैं इन 5 दिनों में आपको विशेषता अपने खान-पान और अपने शरीर का ध्यान रखना बहुत जरूरी होता है। इस समय आपको किसी भी तरह की ठंडी चीज नहीं खानी चाहिए। जैसे कि कोल्ड ड्रिंक्स, आइसक्रीम, ठंडा पानी नहीं पीना चाहिए। या फिर ऐसा खाना जो फ्रिज में रखा हो, या ठंडा हो, बासी हो वह आपको नहीं खाना चाहिए। आपको इस समय मसाले युक्त पदार्थ नहीं खाने चाहिए।

या कोई भी ज्यादा तीखा खाना नहीं खाना चाहिए। और अगर आप पावर योगा या जिम जाते हो तो इन दिनों में आपको यहां बंद रखना चाहिए। नहीं तो हो सके तो हल्की एक्सरसाइज करनी चाहिए। क्योंकि इससे आपके शरीर पर और ज्यादा तनाव पड़ता है। और इससे  आपका दर्द और ज्यादा बढ़ सकता है। इन दिनों में आपको तनाव बिल्कुल भी नहीं देना चाहिए।

इन दिनों में महिलाओं में चिड़चिड़ापन ज्यादा हो जाता है। यह प्राकृतिक है लेकिन इससे आपको जितना हो सके उतना अपने आप को दूर रखना चाहिए। किसी भी बात पर ज्यादा ना सोचे इससे आपके दिमाग पर ज्यादा जोर पड़ने की वजह से तनाव हो सकता है। और इससे भी आपका दर्द ज्यादा बढ़ सकता है। इसके लिए आपको आपकी शारीरिक तथा अपने खान-पान का ध्यान रखना बहुत जरूरी है।

आपको रोजाना आपने खाने में फल एवं हरी सब्जियों का समावेश रखना चाहिए। ऐसे पदार्थों को सेवन करें जिसमें विटामिंस मिनिरल्स और कैल्शियम की मात्रा ज्यादा प्रमाण में हो। और पोषक तत्वों की कमी ना हो। अपने खाने में नमक का समावेश कम करना चाहिए।

पीरियड्स मैं दर्द से छुटकारा पाने के उपाय :

पीरियड्स मैं दर्द से छुटकारा
पीरियड्स मैं दर्द से छुटकारा

अजवाइन :

अजवाइन
अजवाइन

एक चम्मच अजवायन को एक ग्लास पानी में अच्छे से उबालिए और इस पानी को छन्नी से छान कर, थोड़ा ठंडे होने के बाद में पी लीजिए। इससे आपको आप के दर्द से छुटकारा पाने में मदद होगी।

दालचीनी का पाउडर :

दालचीनी का पाउडर पीरियड्स में होने वाले दर्द के लिए
दालचीनी का पाउडर पीरियड्स में होने वाले दर्द के लिए

आपको अनियमित पीरियड्स की समस्या है। और पीरियड्स में बहुत दर्द होता है। तो आपको रोज खाली पेट एक चम्मच दालचीनी के पाउडर को एक क्लास गर्म पानी में मिलाकर उसमें थोड़ा सा शहद मिलाकर रोज खाली पेट सुबह पिए। इससे आपको बहुत राहत मिलेगी और आपका दर्द कम हो जाएगा।

भुने हुए चने और गुड़ खाए :

भुने हुए चने और गुड़ खाए
भुने हुए चने और गुड़ खाए

यह आपके स्वास्थ्य के लिए बहुत उपयुक्त और पोषक होते हैं। इनमें बहुत सारे पोषक तत्व की तत्वों का समावेश होता है। रोजाना अगर आप सुबह मुट्ठी भर भुने हुए चने थोड़े से गुड़ के साथ खाए। तो यह आपके पीरियड्स में होने वाले दर्द को कम कर देगा। और इससे आपका हीमोग्लोबिन भी बढ़ेगा जोकि बहुत जरूरी है।

खान-पान का ध्यान रखें ;

खान-पान का ध्यान रखें
खान-पान का ध्यान रखें

आपको अपने खाने में विटामिन, मिनरल्स और कैल्शियम युक्त पदार्थों का समावेश करना चाहिए। जैसे कि आपको ज्यादा से ज्यादा फल और हरी सब्जियां खाने चाहिए। यह बहुत जरूरी है। क्योंकि जब आपकी पीरियड्स आते हैं, तो आपके शरीर में कमजोरी हो जाती है। और तभी आपको अपने खान-पान का ध्यान रखना बहुत जरूरी है। इसके लिए आपको फल और हरी सब्जियां खाना जरूरी है। चाय, कॉफी और मसाला युक्त पदार्थों का सेवन ना करें और ठंडी चीजों का भी परहेज करें।

नारियल का पानी पिए :

नारियल का पानी पिए
नारियल का पानी पिए

पीरियड्स के दिनों में आपको आपको नारियल का पानी पीना चाहिए। यह शरीर के लिए बहुत ही फ़ायदेमंद होता है। और इससे आपका दर्द कम होने में आपकी मदद होती है।.इसको आप रोजाना अगर पीते हैं तो यह बहुत ही ज्यादा फ़ायदेमंद होगा।

धनिए का बीज :

धनिए का बीज पीरियड्स में होने वाले दर्द के लिए
धनिए का बीज पीरियड्स में होने वाले दर्द के लिए

एक चम्मच धनिया के बीज को डेड गिलास पानी में उबलते रहिए, जब तक कि पानी एक ग्लास ना हो जाए। उसके बाद उस पानी को छन्नी से छान के उसमें थोड़ा सा शहद मिला कर पी लीजिए। यह बहुत ही कारगर नुस्खा है। इससे आप का दर्द खत्म हो जाएगा। इसे आपको खाली पेट लेना है। या तो सुबह या फिर खाना खाने से 2 घंटे पहले यह आप दिन में दो बार कीजिए जब आपकी पीरियड्स शुरू है।

अदरक :

अदरक पीरियड्स में होने वाले दर्द के लिए
अदरक पीरियड्स में होने वाले दर्द के लिए

अदरक को कद्दूकस करके उस का रस निकालकर उसमें थोड़ा सा शहद मिलाकर खाइए। या फिर अदरक को कद्दूकस करके एक गिलास पानी में डालकर उबलते रहिए। और इस पानी को थोड़ा ठंडे होने के बाद में थोड़ा शहद मिलाकर खाली पेट पी लीजिए। या फिर खाना खाने के 2 घंटे पहले पीये इससे आपको आपके दर्द में राहत मिलेगी।

गर्म पानी से शेख करें :

गर्म पानी पीरियड्स में होने वाले दर्द के लिए
गर्म पानी पीरियड्स में होने वाले दर्द के लिए

जहां पर भी आपका दर्द हो रहा है। जैसे कि पेट पीठ हाथ पैर वहां पर थोड़ा सा गर्म पानी करके उससे शेख करे। इससे आपको राहत मिलेगी और आपका दर्द कम हो जाएगा।

गाजर और चुकंदर :

गाजर और चुकंदर
गाजर और चुकंदर

गाजर और चुकंदर का जूस का सेवन करें। यह हिमोग्लोबिन बढ़ाने में आपकी सहायता करता है। और आपकी शरीर की कमजोरी को भी दूर करता है। उसी के साथ-साथ आप के दर्द को भी कम करता है। यह आपको रोजाना सेवन करना चाहिए। इससे आपकी अनियमित पीरियड्स की समस्या खत्म हो जाएगी।

जानिए –

पत्नी पति को धोखा कब देती है और क्यों देती है

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *