दिवाली में घर की सजावट कैसे करनी चाहिए ?

0
घर की सजावट
घर की सजावट

दिवाली में घर की सजावट यानिकी दिवाली की तैयारी कैसे करे ? यह आज हम देखने जा रहे है। दिवाली कब है यह सब लोग नही जानते है। इस साल 27 October को दिवाली है। हमारे हिन्दू धर्म मे दिवाली का अति विशेष महत्व है। हर कोई दिवाली की शॉपिंग करने चाहता है। दिवाली की शॉपिंग कैसे करे आज हम देखने वाले है। दिवाली मैं क्या करना जरूरी है यह आप समझ सकते हो। दिवाली की सजावट से आप अपने घर को सुंदर बना सकते हो। दिवाली की सजावट करना जरूरी होता है। कई बार दिवाली मैं कई सारे दिवाली मनाने के तरीके भी देखे जाते है। पर दिवाली मैं घर की रौनक बढ़ाने के लिए सजावट करना अति महत्वपूर्ण है।

 सबसे पहिले देखते है कि,

दिवाली में घर की सजावट कैसे करे ?

दिवाली में घर की सजावट
दिवाली में घर की सजावट
  • दिवाली का कंदील
  • दिवाली की लाइटिंग
  • दिवाली के दिये
  • दिवाली की सफाई

दिवाली का कंदील से करें दिवाली में घर की सजावट :

दिवाली का कंदील से करें दिवाली में घर की सजावट
दिवाली का कंदील से करें दिवाली में घर की सजावट

 दोस्तों हैम सब जानते है दिवाली मैं दिवाली का कंदील घर के बाहर लगाना कितना शुभ माना जाता है। घर के बाहर कंदील लगाने से दिवाली की रौनक कुछ अलग ही लगने लगती है। दिवाली के कंदील कैसे ले यह आपको अछेसे सोच कर लेना है। जब आप दिवाली की शॉपिंग करने जाते हो तो दिवाली का कंदील ज़रूर जोड़ दे।

 ज्यादा तर मार्केट मैं दिवाली के कई सारे कंदील होते है। पर अगर आप अच्छा और सुंदर कंदील लेना पसंद करे। दिवाली का कंदील घर के दरवाज़े के बाहर लगाना शुभ माना जाता है। जब भी आप कंदील दरवाज़े के बाहर लगाते हो तो आपके घर मे ख़ुशियाँ अति है। दिवाली मैं घर की सजावट करने के लिए कंदील सबसे प्यारा लगता है। जब दिवाली की सजावट के लिए घर के बाहर कंदील लगाने से घर की रौनक बढ़ जाती है।

दिवाली की लाइटिंग इस्तमाल करे दिवाली में घर की सजावट के लिए :

दिवाली की लाइटिंग इस्तमाल करे दिवाली में घर की सजावट
दिवाली की लाइटिंग इस्तमाल करे दिवाली में घर की सजावट

दिवाली मैं घर की लाइटिंग लगाना एक शुभ माना जाता है। कोई भी घर मे या घर के बाहर रोशनी करता है। रोशनी से लक्ष्मी माता प्रसन होती है। जब आप दिवाली की सजावट के बारे में सोच रहे तो तो यह जरूर लेकर आये। दिवाली की शोभा ज्यादा तर लाइटिंग ओर दिए से ही होती है।

दिवाली मैं लाइटिंग कहा लगाए यह समझ लेते है। दिवाली मैं ज्यादा तर लोग घर मे या घर के बाहर लाइटिंग लगाना पसंद करते है। हमे लाइटिंग कैसे लगानी है यह समझ लेना है। दिवाली मैं लाइटिंग कोसी कोनो को रोशन करने की कोशिश करे। दिवाली ही एक ऐसा तेवार है जिसमे आप रोशनाई करना पसंद करते हो।

दिवाली की सजावट करने से पहिले आप यह तय कर ले कि आप को किस प्यार की सजावट करनी है। दिवाली मैं कोनसी डिज़ाइन इस्तमाल करनी है। यह सभी काम करने से पहिले आप को दिवाली मैं क्या करना है यह सब पता होना चाहिए। अगर आप घर मे बहता पानी रखे तो शुभ होता है। आपको ऐसी कई सारी बाते पता होंनी चाहिए।

दिवाली के लिए दिया ले आए :

दिवाली के लिए दिया
दिवाली के लिए दिया

दोस्तो हम सब जानते है दिवाली मैं दिये कितने महत्त्वपूर्ण है। दिवाली मैं दिया जलाने का कारण यह है कि घर मे ओर जीवन मे रोशनी रहे। दिया रोशनी लेकर आता है। और आपके जीवन दिवाली के शुभ अवसर पर रोशनी से भर देता है। दिवाली खुशाली से भर देती है।

दिवाली मैं दीये कहा लगाने च्याहिये यह जानते है। दिवाली मैं ज्यादा तर लोग घर के बाहर दीये लगाना पसंद करते है। पर आपको घर के बाहर के साथ घर के अंदर भी दिए लगाने है। घर मे बहते पानी के साथ अगर आप दीये लगते हो तो वह आपको शुभ संदेश देता है। ओर दिखने मैं भी अच्छा लगता है। जब कोई यह देखता है तो खुशियों का घर है यह सोचता हैं।

दिवाली का दिया कैसे होना चाहिए। हम सभी को यह पता है। पर एक बात का ध्यान जरूर रखे ज्यादा तर मट्टी वाले दिए ले। और उन पर घर मे ही कुछ डिज़ाइन बनाये। यह करने से आपके दिवाली मैं एक यादगार हो सकता हैं।

दिवाली की सफाई करनी है जरुरी :

दिवाली की सफाई
दिवाली की सफाई

दिवाली की सफाई कुछ दिनों पहिले करने की सुरुवात कर दे। जैसे कि दिवाली के 10 दिन पहिले। जब आप साफ सफाई करते हो तो आपको यह पता चल ज्याता है। अपने घर मे क्या काम का है और क्या नही है। जो काम का सामान होता है उसे घर मे रखे। घर मे ज्यादा खुली जगह रखे दिवाली मैं मेहमान आने की संभावना होती है। उसी के लिए आपको घर मे खुली जगह रखना जरूरी है।

 घर की छतों को अच्छे से साफ करे। बारिश के कारण घर के दीवार ओर बाहर से खराब हो जाती है। दिवाली की तैयारी ले लिए घर की साफ सफाई सबसे बड़ा काम होता है। दिवाली की साफ सफाई करने मे ज्यादा समय तक लग जाता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here